waterfall

घर की सजावट  में 8 चीजों का प्रयोग ना करें….

घर की सजावट करते समय कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत जरुरी होता है।आपको बता दें कि जब भी घर की सजावट करें तो 8 चीजों का प्रयोग करने से बचें।




बहते हुए पानी या झरने की तस्वीर

बहते हुए पानी या झरने की तस्वीर घर में नहीं लगानी चाहिए।इससे आर्थिक नुकसान होने की संभावना रहती है।अगर ऐसी तस्वीर घर में है तो धन कभी भी आपके यहां रुकेगा नहीं।

हिंसक जानवरों की तस्वीर

हिंसक जानवरों की तस्वीर या पेंटिग को भूलकर भी घर में ना लगाएं।वैसे तो ये पेंटिंग या तस्वीर देखने में बहुत सुंदर लगती हैं लेकिन इससे घर में कलह बढ़ता है।

रोता हुआ या परेशान बच्चे की तस्वीर

आजकल माडर्न आर्ट के नाम पर लोग कुछ भी घर में लगा लेते हैं।आपको बता दें कि जब भी इस तरह की कोई पेंटिग आप घर में लगाएं तो हमेशा ध्यान रखें की पेंटिंग में रोता हुआ परेशान या उदास बच्चा तो नहीं है। ऐसी तस्वीरें लगाने से घर में नेगेटिव एनर्जी बढ़ता है।खुशियां घर से कोसों दूर भाग जाती हैं।

डूबते हुए जहाज की तस्वीर

घर में भूलकर भी डूबते हुए जहाज या नाव की तस्वीर,पेंटिंग या शो पीस ना रखें।आजकल आधुनिक बनने की होड़ में लोग कुछ भी घर में रख देते हैं।अगर आपके घर में ऐसी तस्वीर है तो हो सके तो हटा दें।हमारी संस्कृति में डूबना प्रतीक है नेगेटिवीटि का।फिर ऐसी चीज क्यों रखें जो हमारे भाग्य को ही डुबो दे।

घर में महाभारत या महाभारत की तस्वीर ना रखें

महाभारत ग्रंथ के विषय में कहते हैं कि इसको घर में रखने से परिवार में कलह बढ़ता है।पूजनीय होने के बावजूद महाभारत ग्रंथ को घर में रखने से मना किया जाता है।इसके अलावा महाभारत युद्ध से जुड़ी कोई तस्वीर या पेंटिंग घर में नहीं लगाना चाहिए। इससे घर में हमेशा टेंशन बना रहता है।

युद्ध या जादू के खेल की तस्वीर ना लगाएं

घर में युद्ध या जादू के खेल से जुड़ी पेंटिंग या तस्वीर ना लगाएं।ऐसी चीजों के घर में होने से घर के सदस्यों के बीच आपसी विश्वास और प्रेम कम होता है।

ताजमहल की तस्वीर,पेंटिंग या शो पीस

ताजमहल की तस्वीर,पेंटिंग या शो पीस घर में ना रखें।हालांकि ये प्रेम का प्रतीक है लेकिन साथ ही साथ ये एक कब्रगाह भी है।इसको रखने से घर में उदासी रहती है।नेगेटिव एनर्जी बढ जाती है।

नटराज की मूर्ति

नटराज की मूर्ति घर में नहीं रखनी चाहिए।नटराज की मूर्ति में शिव तांडव की मुद्रा में है जो विनाश का प्रतीक है।