madhuri

धक धक गर्ल के नाम से इंडस्ट्री में मशहूर माधुरी दीक्षित की सफलता की कहानी भी बड़ी अजीब है। माधुरी मे सन् 1984 में अबोध फिल्म से अपने फिल्मी करियर का आगाज किया था।लेकिन फिल्म को कुछ खास सफलता नहीं मिली थीं।माधुरी के करियर में अप्स और डाउन चलता रहा।इंडस्ट्री में अपनी जगह बनाने के लिए माधुरी का स्ट्रगल जारी रहा।माधुरी के करियर में निर्णायक मोड़ आया फिल्म तेजाब से।1988 में आनेवाली फिल्म तेजाब सुपर डुपर हिट हुई।आपको बता दें कि इस फिल्म के लिए इससे पहले उस समय की स्टार हिरोइन मिनाक्षी शेषाद्री को एप्रोच किया गया था।फिल्म की फीस और टाईमिंग मिनाक्षी को शूट नहीं कर रहा था।मिनाक्षी के मना करने पर डायरेक्टर ने इस फिल्म के लिए माधुरी दीक्षित को एप्रोच किया और इस तरह माधुरी दीक्षित बन गई सुपर हीट फिल्म तेजाब की हिरोइन।

 फिल्म में माधुरी के अपोजिट अनील कपूर थे।रिलीज होते ही फिल्म हीट हो गई।माधुरी दीक्षित रातों रात स्टार बन गई।फिल्म का एक गाना ‘एक दो तीन चार’…बच्चे-बच्चे की जुबान पर चढ़ गया था। तेजाब को उस साल का 4फिल्मफेयर अवार्ड मिला। पहली बार माधुरी दीक्षित को फिल्म फेयर अवार्डस् में बेस्ट एक्ट्रेस के लिए नामीनेट किया गया था।यहीं से माधुरी दीक्षित के करियर को नई दिशा मिली जहां से माधुरी आगे ही बढ़ती गई।अपने सुंदरता और प्रतिभा के बल पर माधुरी ने फिल्म इंडस्ट्री में अपना परचम लहराया।