‘बेवॉच’ में विलेन बनकर छा गई प्रियंका चोपड़ा

Baywatch-Poster

फिल्म का नाम : बेवॉच
डायरेक्टर : सेथ जॉर्डन
स्टार कास्ट : ड्वेन जॉनसन, जैक एफ्रॉन, प्रियंका चोपड़ा, एलेक्जेंड्रा, जॉन बॉस।

फिल्म की अवधि : 1 घंटा 57 मिनट
सर्टिफिकेट : A

उत्तरप्रदेश के एक छोटे से शहर बरेली में रहकर दुनिया की सबसे बड़ी स्टार बनने का सपना देखने वाली ये लड़की आज इंटरनेशनल स्टार बन गई हैं। जी हां! आप सही सोच रहे हैं। हम प्रियंका चोपड़ा की ही बात कर रहे हैं। प्रियंका ने अपने टैलेंट और काम के बूते बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक का सफर बखूबी तय किया है। यह अभी भी जारी है। शुक्रवार यानि की आज ही पीसी की पहली हॉलीवुड फिल्म ‘बेवॉच’ रिलीज हुई है।

फैंस को लंबे समय से इसका इंतजार था। आपको बता दें कि प्रियंका की ये फिल्म ‘बेवॉच’ 90 के दशक में आने वाले एक सीरियल पर बेस्ड है। दुनियाभर के दर्शकों में यह शो खासा लोकप्रिय था। भारतीय दर्शक भी इसके दीवाने थे। शो में डेविड हेसलॉफ और पामेला एंडरसन की मौजूदगी फैंस का उत्साह बनाए रखती थी। लगभग 16 साल बाद उसी शो पर बेस्ड फिल्म बनाई गई है। फिल्म में प्रियंका ने मुख्य विलेन का किरदार निभाया है। आइए जानते हैं कि इस देसी गर्ल ने विदेशियों के बीच कैसा धमाल मचाया है।

फिल्म की स्टारकास्ट

हॉलीवुड के बड़े सितारे जैसे ड्वेन जॉनसन, जैक एफ्रॉन के अलावा भारतीय अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा का इस फिल्म में होना, भारतीय दर्शकों को सिनेमाघरों तक खींचकर लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। इसके अलावा फिल्म में एलेक्जेंड्रा, जॉन बॉस आदि ने भी अपने किरदारों को बखूबी निभाया है।

कहानी 

यह कहानी फ्लोरिडा के समंदर के किनारे रहने वाली ‘बेवॉच’ टीम की है, जिसके मुखिया मिच (ड्वेन जॉनसन) है। कुछ समय बाद मिच की टीम में मैट ब्राडी (जैक एफ्रॉन) की नियुक्ति होती है। इससे मिच नाखुश रहते हैं क्योंकि मैट अपने काम के प्रति बहुत लापरवाही बरतता है। उनके बीच मजाकिया नोंक-झोंक चलती रहती है। कहानी में ट्विस्ट तो तब आता है जब बीच के पास ड्रग्स के बैग्स पाए जाते हैं। इस काम के लिए मिच के शक की सुई विक्टोरिया लीडस् (प्रियंका चोपड़ा) पर जाकर रुकती है। इसके बाद ‘बेवॉच’ टीम किस तरह इस षड्यंत्र का पर्दाफाश करती है। यह तो आपको फिल्म देखकर ही पता लगेगा।

प्रियंका का खास रोल 

यह कहानी फ्लोरिडा के समंदर के किनारे रहने वाली ‘बेवॉच’ टीम की है, जिसके मुखिया मिच (ड्वेन जॉनसन) है। कुछ समय बाद मिच की टीम में मैट ब्राडी (जैक एफ्रॉन) की नियुक्ति होती है। इससे मिच नाखुश रहते हैं क्योंकि मैट अपने काम के प्रति बहुत लापरवाही बरतता है। उनके बीच मजाकिया नोंक-झोंक चलती रहती है। कहानी में ट्विस्ट तो तब आता है जब बीच के पास ड्रग्स के बैग्स पाए जाते हैं। इस काम के लिए मिच के शक की सुई विक्टोरिया लीडस् (प्रियंका चोपड़ा) पर जाकर रुकती है। इसके बाद ‘बेवॉच’ टीम किस तरह इस षड्यंत्र का पर्दाफाश करती है। यह तो आपको फिल्म देखकर ही पता लगेगा।

प्रियंका का खास रोल 

जिसने भी 90 के दशक में ‘बेवॉच’ सीरियल देखा होगा, उसे पामेला एंडरसन का रोल तो याद होगा। उस समय में अपने हुस्न, अपनी अदाओं और बोल्डनेस की वजह से पामेला ने अपनी एक अलग ही छवि बना रखी थी। पामेला एंडरसन के इस अंदाज को प्रियंका चोपड़ा ने दोबारा पर्दे पर उतारने की कोशिश की है। जी हां! प्रियंका का रोल ग्रे शेड लिए हुए है। मगर वो एक ऐसी बिजनेसवुमन का रोल करती दिखीं हैं जिसे ‘ना’ सुनना पसंद नहीं है।